Menu

नदी अभियान के बारे में जागरुकता फैलाने के लिए इंदौर की सड़कों पर साइक्लोथॅान और बुलेट राइड

रैली फार रिवर्स के लिए आगे आए सचिन

18 से 21 सितम्बर तक रिवर फेस्टिवल सांस्कृतिक कार्यक्रम

इंदौर, 18 सितम्बर: सदगुरू और सचिन के नदियॊ को बचाने के आह्वान को ध्यान में रखते हुए उनके संदेश को फैलाने में मदद करने के लिए इंदौर में उत्साहीजनों ने एक साइक्लोथॅान का आयोजन किया था । इस प्रयोजन के बारे में जागरूकता फैलाने के उद्येश्य से रविवार की सुबह 50 साइक्लिस्टस इंदौर की सडकों पर उतरे। इंदौर नगर निगम के उप आयुक्त श्री महेन्द्र सिंह चैहान ने झंडी दिखाकर रैली को रवाना किया। रवीन्द्र नाट्यगृह से सुबह 6.00 बजे रैली का शुभारंभ हुआ। साइक्लिस्टस ने यहां से पलासिया, एलआइजी, सत्य साई चैराहा, बाम्बे हास्पिटल , पिपलिया हाना , रीजनल पार्क तथा आईटी पार्क तक 20 किलोमीटर की दूरी तय की ।

शहर में आयोजित एक अन्य गतिविधि में राॅयल इनफिल्ड बाइकर्स के समूह ने भी आरएफआर टी शर्ट पहन कर तथा आरएफआर बैनर्स थामकर इंदौर की सडकों का चक्कर लगाया।बाइकर्स यहां से नेहरू स्टेडियम चैराहा, चिडियाधर चैराहा, सपना संगीता,कलेक्टोरेट , राजवाडा, कृष्णपुरा पुल तथा गांधी हाल होते हुए रैली के समापन के लिए फिर से 56 दुकान पहुंचे । इस रैली मं 25 पुरूष और 2 महिला राइडर्स ने हिस्सा लिया ।

शनिवार की संध्या को भी कुछ स्वयंसेवी रैली फार रिवर्स प्लेकार्डस और बैनर्स लिए टैक्टरों पर सवार होकर इंदौर की सडकों से गुजरे। उन्होने राहगीरों में बहुत सारी दिलचस्पी और जागरूकता निर्मित की।

सडकों पर रैलियों और स्कूल , काॅलेज और निगमित जागरूकता कार्यक्रमो के अतिरिक्त , रैली फार रिवर्स इंदौर की टीम 18 से 21 सितम्बर तक रिवर फेस्टिवल नामक सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित कर रही है।  इस कार्यक्रम में कई ख्यातिप्राप्त कलाकार अपने क्लासिकल तथा सामयिक डांस शैलियों के साथ साथ गायन तथा वादन से दर्शकों को आल्हादित करेंगे । पहले दिन की शुरूआत में गीत संगीत और नृत्य के अलावा सभी दिन शहर के कुशल कलाकारों द्वारा लाइव पैंटिंग्स भी की जाएगी। फेस्टिवल आज शाम 5.30 बजे रवीन्द्रनाट्य गृह में आरंभ हुआ जो 21 सितम्बर तक चलेा । इस कार्यक्रम के लिए प्रवेश निःशुल्क है।

सचिन तेंदुलकर रैली फार रिवर्स आंदोलन से जुडने वाली नवीनतम राष्ट्रीय हस्ती है। रैली फार रिवर्स रैली के समर्थन में जारी एक विडियो में सचिन ने कहा कि ‘‘यह जानना खतरनाक है कि 2030 तक हमारे पास अपने जीवन को बचाने के लिए आवश्यक जल की मात्रा का केवल 50 प्रतिशत ही उपलब्ध होगा । मुझे यह देखकर अत्यधिक प्रसन्नता हुई कि आप में से कई नदियों को बचाने में जुटे हुए हैं। हमारी नदियां हमारी जीवन-रेखाएं हैं। इस पावन कार्य के प्रति अपना समर्थन प्रदर्शित करने के लिए मैने 8000980009 पर मिस्ड काॅल दिया है तथा मैं आप सभी से यही करने का अनुरोध करता हूं। यदि हम एकजुट होकर थोडा समर्पण करें तो परिवर्तन हो जाएगा।

Spread the love

No comments

Leave a Reply

Movie Reviews

Movie Trailers

Photo Gallery

Read Latest Bollywood News